Gariaband News (गरियाबंद न्यूज़)
Trending

गरियाबंद से बड़ी खबर: फर्जी नक्सलियों को पुलिस ने धर दबोचा। सरपंच को 5 लाख रूपए की डिमांड।

CG News: गरियाबंद। मामला गरियाबंद जिले के छूरा थाना क्षेत्र का है जहां छूरा पुलिस ने नक्सली बनकर सरपंच को 5 लाख रुपए की उगाही करने वाले छः अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

इस घटना का मास्टरमाइंड गौतम चक्रधारी है जो पहले भी 2019 में नक्सली बनकर सरपंचों से अवैध उगाही के केश में जेल जा चुका है।

घटना 23 अगस्त रात की है फर्जी नक्सलियों ने छूरा ब्लाक खुड़ियाडीह गांव के सरपंच के घर घुसकर मारपीट करते हुए 5 लाख की फिरौती मांगी, इस दौरान इन्होंने एयर गन से हवाई फायर भी किया और सरपंच के बेटे की पिटाई भी शूरु कर दी। घटना के बाद से ही सरपंच और उसका पूरा परिवार दहशत में था 25 अगस्त को सरपंच के पुत्र हेमू नागेश ने छुरा थाना पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज करवाई, मामले कि गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी छुरा के द्वारा घटना की जानकारी जिले के पुलिस अधिकारियों को दी।

गरियाबंद पुलिस अधीक्षक जे आर ठाकुर के दिशा निर्देश और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चंद्रेश ठाकुर के मार्गदर्शन तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरियाबंद पुष्पेंद्र नायक व उप पुलिस अधीक्षक निशा सिन्हा के पर्यवेक्षण में स्पेशल टीम के गठित कर प्रकरण के त्वरित निराकरण हेतु निर्देशित किया गया। जिसके बाद गरियाबंद स्पेशल टीम साइबर सेल एवं छुरा थाना टीम द्वारा सूचना तंत्र को सक्रिय किया गया साथ ही स्पेशल टीम छुरा पुलिस द्वारा लगातार दिन रात मेहनत कर सुराग ढूंढने जगह जगह सीसी टीवी फुटेज खंगाली गई।

सरपंच के परिवार वालों से पूछताछ करने पर बताया गया की नक्सली कार में आए थे जिसके बाद पुलिस को यकीन हो गया की यह नक्सली नहीं बल्कि फर्जी नक्सली है जिसके बाद पुलिस ने होशियारी से पता लगाते संदेह के आधार पर प्रहलाद नायक, रोहित नायक, गेमेंद्र ध्रुव, ओम प्रकाश निषाद, गौतम चक्रधारी, एवं पायल मानिकपुरी को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर सभी 6 आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर घटना को अंजाम देने में उपयोग किए गए एयर गन नक्सली वर्दी एवं अन्य सामग्रियों को पेश करने पर गवाहों के समक्ष जब्ती की कार्रवाई की गई।

मामले में छुरा थाना द्वारा सभी आरोपियों के ऊपर धारा 323, 458, 384, 34, 386, 387, 419, 398 भादवि दर्ज कर सभी आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया न्यायालय के आदेश पर सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया। इस घटना में फर्जी नक्सलियों ने अपने गैंग मे एक महिला को शामिल किया गया था, पकड़ी गई महिला रायपुर के मोवा सड्डू की रहने वाली है।

समर्पित नक्सली गौतम चक्रधारी पहले भी इसी तरह के फर्जी नक्सलियों की गैंग बनाकर नक्सल प्रभावित क्षेत्र के सरपंचों से 2019 के पहले 15 से 20 लाख रुपए से अधिक की अवैध वसूली कर चुका था और 2019 मे फर्जी नक्सली केश मे जेल भी जा चुका था, इस फर्जी नक्सली केश का पूरा मास्टर माइंड गौतम को बताया जा रहा है जिसने लंम्बे समय के बाद फिर से फर्जी नक्सलीयों का गैंग बनाकर सरपंचो से वसूली करने कि रणनीति बनाई थी लेकिन गरियाबंद पुलिस कि सक्रियता के चलते उनका पूरा प्लान चौपट हो गया पुलिस द्वारा इन नक्सलियों को पकड़ने में स्पेशल टीम साइबर सेल के जवानों ने खूब मेहनत की नक्सलियों की एक गलती उनकी गिरफ्तारी की वजह बनी उक्त घटना को अंजाम देने 03 से 04 फर्जी नक्सली कार से सरपंच के घर पहुंचे थे और यही बात पुलिस को खटकने लगी क्युकि कभी भी नक्सली किसी भी वारदात को अंजाम देने कार से नहीं जाते जिसका पता लगाकर पुलिस ने पूरी गैंग का भंडाफोड़ कर दिया। इस पूरी कार्यवाही मे थाना प्रभारी छुरा तरशीला टोप्पो, स्पेशल टीम प्रभारी प्रधान आरक्षक अंगद राव, चूड़ामणि देवता, आरक्षक सुशील पाठक, रविंद्र सिन्हा, हरीश साहू, यादराम ध्रुव, सहायक उपनिरीक्षक छुरा सुरेश निषाद, प्रधान आरक्षक हीरालाल चंद्राकर, तुलाराम साहू, उमेश शांडिल, आरक्षक माधव साहू, दयानंद गौड, राजेंद्र गायकवाड, सूर्यकांत राय ने सराहनीय भूमिका निभाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker