Festival त्योहार

Hareli Kab Hai 2022 | छत्तीसगढ़ में हरेली त्योहार कब है|

hareli कब hai 2022 ?Hareli festival

इस वर्ष hareli 2022 में हरेली त्यौहार श्रावण अमावस्या 28 जुलाई दिन गुरुवार को मनाया जाएगा। अर्थात 2022 में हरेली तिहार छत्तीसगढ़ में जुलाई महीने की 28 तारीख दिन गुरुवार को है।

हरेली तिहार का महत्व | hareli tyohar

हरेली तिहार छत्तीसगढ़ का पहला त्यौहार है छत्तीसगढ़ में सर्व प्रथम hareli tyohar को मनाया जाता है।
छत्तीसगढ़ एक कृषि प्रधान राज्य है छत्तीसगढ़ को धान का कटोरा कहा जाता है यहां के लोग कृषि आधारित व्यवसाय एवं जीवकोपार्जन करते हैं।

Hareli tihar किसानों के लिए खास महत्व है, हरेली तिहार हरियाली का प्रतीक है जो कि किसानों एवं खेत खलिहानों एवं फसल से सीधा ताल्लुक रखता है। इसलिए छत्तीसगढ़ में हरेली तिहार का महत्व है।

हरेली त्यौहार क्यों मनाया जाता है?

Hareli tyohar हरियाली का प्रतीक माना जाता है किसान अपनी फसल की सुरक्षा एवं खेत खलिहान हरा-भरा रहने की कामना करते हुए हरेली त्यौहार मनाते हैं।

जब किसान आषाढ़ के महिने में अपने खेत में फसल उगाता है तो श्रावण महीने के आते ही धान की फसल हरा-भरा हो जाता है और खेत लहलहाने लगता है तब किसान अपनी फसल की सुरक्षा हेतु हरेली तिहार hareli tihar मनाते हैं।

हरेली त्यौहार किस राज्य में मनाया जाता है?


छत्तीसगढ़ का प्रमुख फसल धान है यहां के किसान मुख्य रूप से ज्यादातर धान की खेती करते हैं अतः प्रमुखता: छत्तीसगढ़ राज्य में हरेली त्यौहार hareli tihar मनाया जाता है।

Hareli Tihar के दिन लोग सभी अपने घर में छत्तीसगढ़ का प्रसिद्ध मिष्ठान चिला रोटी तवे में भून कर चिला रोटी का प्रसाद भी पूजा में अर्पण करते हैं तथा चिला रोटी का प्रसाद बांटते हैं।
हरेली तिहार के दिन बांस की लकड़ी से बनाई गई गेड़ी का उपयोग किया जाता है, छत्तीसगढ़ राज्य सांस्कृतिक लोक पर्व का धरोहर कहा जाता है hareli tihar भी सांस्कृतिक लोक पर्व है।
इस दिन से बच्चे गेड़ी बनाकर चढ़ते हैं तथा पोला त्योहार को गेड़ी तोड़ते हैं।
हरेली त्योहार के दिन गांव के झाकर बैगा लोग घर घर जाकर दशमूल पौधे एवं बेलवा की पत्ती बांधते हैं ताकि गांव में भी किसी प्रकार की बीमारी न आए।
किसान hareli tihar के दिन उपवास व्रत रखते हैं और फसल एवं औजार की पूजा करते हैं। इस दिन सभी किसानों को खेती बाड़ी कार्य वर्जित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker