aaj ka taaja news ( आज की ताजा न्यूज़ )

किसान के खेत में मिला खजाना | प्राचीन दुर्लभ सिक्कों से भरा घड़ा | देखने के लिए उमड़ी भीड़ Treasure found in farmer’s field

Aaj ka Taaja news. कन्नौज के जलालाबाद में खेत की जुताई कर रहे किसान को दुर्लभ सिक्कों से भरा घड़ा मिला तो उसने चुपचाप अपने घर में रख ली। बाद में जानकारी होने पर देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ लग गई और पुरातत्व विभाग की टीम भी पहुंच गई।

कन्नौज, जागरण संवाददाता। जलालाबाद में एक किसान को खेत की जुताई करने के दौरान खजाना मिलने की जानकारी पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्र हो गई। खेत में प्राचीन दुर्लभ सिक्कों से भरा घड़ा मिला, जिसे देखने के लिए ग्रामीणों की होड़ लग गई। राजकीय पुरातत्व संग्रहालय की टीम भी पहुंची और मटकी समेत सिक्के कब्जे में ले लिये। पुरातत्व सर्वेक्षण की टीम अब सिक्कों की जांच करके कालखंड का पता लगाएगी और उन्हें संग्रहालय में रखा जाएगा।

जलालाबाद ब्लाक क्षेत्र की ग्राम पंचायत तेरारागी के मजरा मूसरि गांव में आनंद कुमार जाटव अपने खेत की ट्रैक्टर से जोताई करा रहे थे। इसी दौरान खेत में एक घड़ा ट्रैक्टर के कल्टीवेटर से टकराई। इसपर आनंद ने ट्रैक्टर को रोक दिया और खेत के अंदर मिट्टी से घड़ा बाहर निकाल लिया तो उसमें से कुछ सिक्के निकले। पहले तो खेत में गड़ा खजाना मिलने पर उसे घर में रख लिया लेकिन ट्रैक्टर चालक ने गांव में लोगों को खजाना मिलने की जानकारी दी।

इसपर खजाना देखने की जिज्ञासा बढ़ गई और कई लोग उसके घर पहुंंच गए। पहले तो सोने की मोहरें होने का संदेह हुआ लेकिन जब घिसकर जांचा तो सभी सिक्के तांबा मिश्रित धातु के मिले। लोगों की सूचना पर राजकीय पुरातत्व संग्रहालय के अध्यक्ष दीपक कुमार अपनी टीम को लेकर मूसरि गांव पहुंंच गए। उन्होंने किसान से सभी सिक्के व मटकी ले ली।

बताया गया है कि मटकी में 100 से अधिक सिक्के हैं, जिनमें कई आकृतियां बनीं हुईं हैं। आकृतियों और कालखंड का फिलहाल स्पष्ट नहीं है। पुरातत्व विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सिक्के प्राचीन हैं, जिनकी कार्बन टेस्टिंग से कालखंड का पता चलेगा। ग्रामीणों का कहना है कि जहां खेत है, वहां करीब 60 साल पहले कच्चे मकान बने थे। पुराने समय में तांबे के सिक्के प्रचलन में थे, तभी किसी ने मटकी में सिक्के रखकर गाड़ दिए होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker